Press "Enter" to skip to content

एक और मदरसा, एक और नाबालिग का बलात्कार, और फिर मीडिया ने खबर दबाने पर लगाया जोर

एक बार फिर से एक दुस्साहसिक घटना ने चुनौती दे डाली है समाज के धैर्य को, मानवता को और कानून को भी .. एक मदरसा जिसे कहने के लिए गरीब मुसलमान बच्चो को शिक्षा देने के लिए चलाया जा रहा था , वो मदरसा असल मे बन गया था बलात्कार का अड्डा और वहां पिछले 2 साल से तबाह किया जा रहा था एक नाबालिग का जीवन ..

जब इस मामले की भनक परिवार वालों को लगी तब उन्हें मदरसे के संचालक का असली दानवी चेहरा सामने दिखा और उन्होंने इस पर दर्ज करवाया मुकदमा ..

ज्ञात हो कि मामला है उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले का जहां एक मदरसा के शिक्षक पर मदरसे के बगल रहने वाली एक नाबालिग लड़की से दो वर्ष रेप तक लगातार बलात्कार करते रहने का आरोप लगा है। मदरसे के संचालक की करतूत की शिकायत जब बच्ची का भाई उसके घर बताने गया तो आरोपी व उसके परिवार के लोगों ने किशोरी के परिवार को जान स खत्म कर देने की धमकी दी।

थक हार कर पीड़ित परिवार पुलिस की शरण मे गया जिसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए इस बेहद घिनौने व जघन्य मामले में रेप की धारा और पॉक्सो ऐक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है .

ये घटना सीतापुर जिले के अंतर्गत आने वाली तालगांव कोतवाली की है .. इसी कोतवाली क्षेत्र के एक गांव का निवासी आदिल गांव में ही एक मदरसे में शिक्षक है। मदरसे के पड़ोस में ही एक किशोरी अपनी दादी के साथ रहती है। उसके माता-पिता की मृत्यु हो चुकी है और उसका भाई बाहर रहकर कपड़े बेचने का काम करता है।

बताते हैं कि आदिल ने पड़ोस में रही वाली एक नाबालिग से बलात्कार किया और ये डरा धमका कर किया जा रहा बलात्कार लगभग 2 वर्ष तक चला ..जब पानी सर से गुजर गया तब किशोरी ने आपबीती भाई को सुनाई। भाई ने निकाह करने की बात कही, लेकिन दबंग आरोपी और उसके परिवार ने उसे धमकाकर भगा दिया। युवक ने कोतवाली में आदिल, उसके पिता व दो भाइयों के खिलाफ तहरीर दी है।

मामले में थाना तालगांव पुलिस ने आईपीसी की धारा-376 और पॉक्सो ऐक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। प्रभारी कोतवाल का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। इस मामले के सामने आने के बाद ऐसे कुकर्मी मदरसा संचालक के मदरसे में क्या शिक्षा दी जा रही होगी इसका अंदाज़ा सहज रूप से लगाया जा सकता है ..

अभी ये भी साफ नही हो पाया है कि बलात्कारी द्वारा संचालित मदरसा वैध पंजीकृत था या अवैध रूप से उत्तर प्रदेश शासन के नियमो की अनदेखी कर के चलाया जा रहा था ..

Mission News Theme by Compete Themes.