Press "Enter" to skip to content

जहाँ हम नमाज़ पढ़ते है वहां हिन्दू पूजा लेकर बैठ जायेंगे तो माहौल ख़राब होगा ही : मौलाना राशिदी

मौलाना राशिदी
मौलाना राशिदी

मौलाना राशिदी  : लखनऊ जिसका असली नाम है लक्ष्मणपूरी, यहाँ नगरनिगम ने एक प्रस्ताव पेश किया जिसके तहत एक सरकारी पार्क में लक्ष्मण जी की मूर्ति लगाई जाएगी

मौलाना राशिदी : लक्ष्मण जी की मूर्ति लक्ष्मण का टीला नमक स्थान पर एक सरकारी पार्क में लगनी है, ये सरकारी पार्क नगरनिगम की सम्पति है, और अपनी संपत्ति पर नगरनिगम मूर्ति लगाना चाहता है

पर स्थानीय मुसलमानों और अब देश भर के कट्टरपंथियों को इस से समस्या है, आज एक निजी टीवी कार्यक्रम में मौलाना साजिद राशिदी ने कहा की लखनऊ के इस स्थान पर मूर्ति नहीं लगनी चाहिए, क्यूंकि अगर ऐसा हुआ तो माहौल ख़राब होगा

मौलाना राशिदी का कहना है की वहां हमारी नमाज़ होगी, और अगर मूर्ति बनी तो नमाज़ के समय हिन्दू वहां अपनी पूजा लेकर बैठ जायेंगे तो माहौल तो ख़राब होगा ही

मौलाना के अनुसार हिन्दुओ की पूजा से माहौल ख़राब हो जायेगा, सेकुलरिज्म की बात करने वाले ये लोग असल में किस मानसिकता के है ये देश का हिन्दू समाज समझता ही नहीं

इस देश में मूढ़ हिन्दू मंदिरों में भी इफ्तार पार्टी करवाते है, दिन रात सेकुलरिज्म की बातें करते है, पर आप देख सकते है की एक मौलाना किस प्रकार पूजा के प्रति घृणा रखता है, और कहता है की नमाज़ के समय हिन्दुओ के पूजा से माहौल ख़राब हो जायेगा, और इसी कारण लक्ष्मण जी की मूर्ति नहीं लगनी चाहिए